To Unleash the bundle creativity of student it offers a wide range of activities. There activities help to imbibe and develop the power of imagination, reasoning, aesthetic sense and encourages co-operation. There activities are spread over throughout the year. Open air session, is example of this. During open air session, pupil teachers perform many activities such as- Beautification and Chramdan, community participation, work experience related with some theory course and cultural and literary activities and games. In the end of the session cultural week is celebrated, winners of the activities are awarded with prizes on this occasion.

(i) OPEN AIR SESSION

(ii) EDUCATIONAL TOUR

साक्षरता दिवस 2017

अकलंक कॉलेज ऑफ एज्यूकेशन में 8th Sept 2017 साक्षरता दिवस के अवसर पर शिक्षा के प्रति जागरूक हेतु ‘व्यक्तित्व और राष्ट्र के विकास में शिक्षा के महत्व’ विषय पर स्लोगन लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में प्रथम स्थान बंटी कुमार नागर, द्वितीय स्थान शबाना कासिमी और तृतीय स्थान दिनेश कुमार बैरवा ने प्राप्त किया।

शिक्षक दिवस 2017

अकलंक कॉलेज ऑफ एज्यूकेशन के प्रशिक्षणार्थियों द्वारा 4 सितम्बर 2017 को शिक्षक दिवस का आयोजन किया गया।प्रशिक्षणार्थियों ने अपने शिक्षकों को पुष्पगुच्छ देकर उनके आशीर्वाद प्राप्त किया; अकलंक विद्यालय असोशिएशन के अध्यक्ष, श्री राजेन्द्र कुमार बज ने सभी शिक्षकों को आशीर्वाद दिये; प्राचार्या डॉ. आशा शर्मा ने आशीर्वचनों के साथ इस दिन का महत्व बताया।

स्वरचित कविता पाठ 

अकलंक कॉलेज ऑफ एज्युकेशन में दिनांक 26 अगस्त, 2017 शनिवार को क्लब प्रतियोगिता के अंतर्गत, स्वरचित कविता पाठ का आयोजन किया गया जिसमें, फैजल खान प्रथम, मौहम्मद हुसैन द्वितीय तथा शिवम अग्रवाल तृतीय स्थान पर रहे।

Orientation Ceremony 2017 

अकलंक कॉलेज ऑफ एज्यूकेशन में सत्र 2017 – 2019 , प्रशिक्षणार्थियों के प्रशिक्षण काल के प्रथम दिवस पर, उन्हें उनके लक्ष्य पथ से अवगत कराते हुए, , महाविद्यालय परिवार से परिचित करवाया गया, साथ ही सभी के उज्वल भविष्य मे मंगल प्रवेश की कामना की गयी ।

जिला स्तरीय अंतर महाविद्यालय एकल गायन प्रतियोगिता एवं वाद-विवाद प्रतियोगिता

02.02.2017 महाविद्यालय के इतिहास में सुनहरा अध्याय जोडने वाला रहा, इस दिन महाविद्यालय ने जिला स्तरीय अंतर महाविद्यालय एकल गायन प्रतियोगिता एवं वाद-विवाद प्रतियोगिता के आयोजन का प्रथम व सफल प्रयास किया, जो अत्यंत सराहनीय कदम साबित हुआ। गायन प्रतियोगिता में निर्णायक की भूमिका में ई.टी.वी. के समन्वयक एवं कोटा के जाने-माने गायक प्रवेश सोनी एवं सारेगामा कार्यक्रम के प्रतिभागी व शास्त्रीय कंठ संगीत में अलंकार की उपाधि प्राप्त विजय राव रहे, जिसमें पन्द्रह महाविद्यालयो एवं कोटा, बूंदी, बारां आदि जिलों के प्रशिक्षणार्थियों ने भाग लिया, एकल गायन प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर गर्वित भट्ट ,द्वितीय स्थान पर विनोद धाकड व तृतीय स्थान पर किरण कुमारी मीणा रही। तो वहीं वाद-विवाद प्रतियोगिता में निर्णायक की भूमिका में राजकीय महाविद्यालय से सेवानिवृत्त वरीष्ठ व्याख्याता श्री टी.सी. गुप्ता जी एवं राजकीय महाविद्यालय, कोटा के प्रथम छात्र अध्यक्ष व पत्रकारिता के तीनों माध्यमों मे सेवारत श्री पुरषोत्तम पंचोली रहे, जिसमें प्रथम स्थान पूनम नागर ने द्वितीय स्थान अंजना योगी ने तथा हिमांशु प्रजापति, गौरव नागर व रश्मि यादव ने तृतीय स्थान ने प्राप्त किया। सभी प्रथम विजेताओं को एक हजार रुपए की राशी व स्मृति चिह्न तथा द्वितीय विजेताओं को 500 रुपए की राशी व स्मृति चिह्न पुरस्कार रुप में प्रदान किए गये।

मुक्ताकाश सत्र 2017

अकलंक कॉलेज ऑफ एज्यूकेशन में तीन दिवसीय मुक्ताकाश सत्र का आयोजन किया गया। इन तीन दिवसों में प्रशिक्षणार्थियों के सर्वांगीण विकास में सांस्कृतिक पहलू के विकास हेतु अनेकानेक कार्यक्रमों का आयोजन किया, जिसमें सभी प्रशिक्षणार्थियों ने बढ-चढ़कर हिस्सा लिया एवं इसे सफल व उद्देश्यपूर्ण बनाने हेतु पूर्ण योगदान दिया, इन तीन दिवसो में अनेक रंगारंग कार्यक्रमों का आयोजन हुआ, इसके प्रथम दिवस कविता पाठ तथा प्रशिक्षणार्थियों में समाज सेवा व मानव कल्याण की भावना के पोषण हेतु श्रमदान का भी आयोजन किया गया, जिसमें समस्त प्रशिक्षणार्थियों ने पूर्ण श्रद्धा के साथ भागीदारी दी। द्वितीय दिवस पूर्ण रूप से खेलकूद प्रतियोगिताओं के नाम रहा,तृतीय दिवस प्रशिक्षणार्थियों की अभिनय व अभिव्यक्ति क्षमता को निखारने हेतु, मूकाभिनय एवं आशुभाषण प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया साथ ही समापन समारोह एवं पुरस्कार वितरण का आयोजन रहा,कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में वर्धमान महावीर खुला विश्वविद्यालय के शिक्षाविद्यापीठ विभाग के निदेशक श्री अनिल कुमार जैन रहे, साथ ही अकलंक विद्यालय संगठन के अध्यक्ष श्री राजेंद्र कुमार बज एवंं अन्य सदस्यों ने अपनी उपस्थिति से प्रशिक्षणार्थियों का उत्साह वर्धन करते हुए, अपना अमूल्य आशीर्वाद प्रदान किया कार्यक्रम में अनेक रंगारंग कार्यक्रमों की झांकी सजी।

Educational Visit

30 मार्च 2017, राजस्थान दिवस के अवसर पर, ‘अकलंक कॉलेज ऑफ एज्यूकेशन’ की ओर से प्रशिक्षणार्थियों के लिये ‘राव माधव सिंह संग्रहालय’ कोटा के भ्रमण का आयोजन किया गया, जहाँ सभी प्रशिक्षणार्थी राजस्थान की कला व संस्कृति से रूबरु हुए, साथ ही उनका कोटा के गौरवशाली इतिहास से भी परिचित हुआ।

लघु नाटिका प्रतियोगिता

अकलंक कॉलेज ऑफ एजुकेशन के सांस्कृतिक कार्यक्रमों के गुलदान में इस बार लघु नाटिका का पुष्प सजा। सभी प्रशिक्षणार्थियों ने अपने-अपने समूह [सृजन, सृष्टि , समृद्धि , सक्षम , समर्थ ] के सदस्यों के साथ बेहद रोचक एवं सामाजिक संदेश से पूर्ण नाटिकाएं प्रस्तुत की, जो बालिका शिक्षा, अंधी भौतिकता, बहू भी एक बेटी है, बदलाव एक आवश्यकता, जागरूक मतदाता जैसे तत्कालीन एवं सार्वभौमिक विषयों पर रची गयीं थी। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि एवं निर्णायक की भूमिका में पारूल शाह रही, जिन्होंने कार्यक्रम के अंत में नाटक मंचन की बारीकियां बताते हुए अपना निर्णय दिया, जिसमें समूह सृजन प्रथम , समूह समर्थ द्वितीय तथा समूह समृद्धि तृतीय स्थान पर रहा।

गणतंत्र दिवस समारोह 2017

अकलंक कॉलेज ऑफ एजुकेशन द्वारा हमारे देश के 68 वें गणतंत्र दिवस का कार्यक्रम, धूमधाम से आयोजित किया गया। कार्यक्रम का आरम्भ मुख्य अतिथि श्री राकेश जैन ( अध्यक्ष, व्यापार संगठन) ने ध्वजा रोहण कर किया, संस्था के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र कुमार बज ने, अतिथियों का स्वागत करते हुए कार्यक्रम को गति दी। कॉलेज की प्राचार्य डॉ. आशा शर्मा ने भावी शिक्षकों को सम्बोधित करते हुए, उन्हें इस तथ्य से अवगत कराया कि – ” देश ने हमारे लिए क्या किया….? यह सोचने के स्थान पर जिस दिन हम यह सोचेंगे कि हमनें आज देश के लिए क्या किया….? उसी दिन से देश की तस्वीर औऱ देशवासियों की तकदीर प्रगति मार्ग पर अग्रसर हो जाएगी।”

कार्यक्रम के अंत में, संस्था सचिव श्री अविनाश जैन ने आभार व्यक्त किया एवं मुख्य अतिथि महोदय के धन्यवाद ज्ञापन के साथ समस्त प्रांगण ‘भारत माता की जय’ से गुंजायमान हो गया।

नि:शुल्क नेत्र परीक्षण शिविर

अकलंक कॉलेज ऑफ एज्यूकेशन ने बुधवार, दिनांक 22:112:017 को, सानिध्य आई हॉस्पिटल के संचालक डॉक्टर राजेंद्र चंदेल के साथ मिलकर नि:शुल्क नेत्र परीक्षण शिविर का आयोजन किया,  जिससे मात्र प्रशिक्षणार्थी ही नहीं, अपितु प्रशिक्षक और बाहर से आए हुए बुजुर्ग, महिलाएं, बच्चे सभी लाभान्वित हुए। डॉक्टर राजेन्द्र चंदेल ने इसकी भी जानकारी दी, कि किस प्रकार अपनी आंखों का ख्याल रखा जाए, साथ ही बताया कि किन लक्षणों से हम जान सकते हैं, कि हमें आंखों से संबंधित समस्या है। इस नि:शुल्क जांच का लाभ लगभग सौ मरीजों ने उठाया।

आशुभाषण प्रतियोगिता

अकलंक कॉलेज ऑफ एज्यूकेशन में दिनांक 25/11/2017 को आशुभाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में निर्णायक का कार्यभार वरिष्ठ व्याख्याता श्री बी. एल. मेहरा ने संभाला, तो वहीं मंच संचालन का कार्य प्रशिक्षणार्थी शाहरुन ने संभाला। प्रतियोगिता में, सभी प्रशिक्षणार्थियों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। प्रतियोगिता में, प्रथम स्थान बंटी कुमार नागर, द्वितीय स्थान चेतन सिंह शेखावत व तृतीय स्थान राकेश कुमार मालव ने प्राप्त किया। विजेताओं को महाविद्यालय की प्राचार्या  डॉ आशा शर्मा , निर्णायक महोदय श्री बी. एल.मेहरा व शोध संस्थान की निदेशक डॉ संस्कृति जैन द्वारा प्रमाण पत्र प्रदान किये गये।